Breaking News

महिला सुरक्षा व जागरूकता पर हुआ संवाद – एडीसीपी सुनीता मीणा

जयपुर, 9 जून। अतिरिक्त पुलिस उपायुक्त एवं निर्भया स्क्वायड टीम नोडल अधिकारी सुनीता मीणा ने आज को जयपुर की खंडेलवाल वैश्य गर्ल्स इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी की छात्राओं से महिला सुरक्षा व जागरूकता पर ऑनलाइन संवाद किया।

एडीसीपी सुनीता मीणा ने अपने उद्बोधन में सभी को आत्मनिर्भर बनने की सीख दी और कहा कि कभी भी लेने वाले की भूमिका में नही रहना चाहिए फिर चाहे देने वाला पति, बेटा या अन्य कोई भी हो। महिला को हमेशा देने वाले की भूमिका में रहना चाहिए।

एडीसीपी ने कहा कि किसी भी स्थिति में डरने की आवश्यकता नही हैं पुलिस सदैव आपके साथ हैं। छात्राओं को प्रेरित करते हुए उन्होंने कहा कि जीवन मे एक उद्देश्य होना चाहिए क्योंकि जिंदगी एक ही मौका देती हैं और वो मौका आज ही हैं। यह सोचकर सदैव आगे बढ़ना चाहिए।

एडीसीपी ने अपने अनुभव पर साझा करते हुए कहा कि जब हम सफेद बाइक पर बैठकर निकलते हैं तो जनता हमारे सम्मान में ताली बजाकर एवं फूलों से हमारा स्वागत करती हैं जिससे हमारे भी भाव आंसू के रूप में निकल जाते है। जनता द्वारा मिले सम्मान पर उन्होंने उनको धन्यवाद दिया और कहा कि पुलिस 24 घण्टे आपकी सुरक्षा के लिए है आप बिना डरे हमारे पास आये।

एडीसीपी ने अपने उद्बोधन में अभिभावकों को सम्बोधित करते हुए कहा कि सभी को बच्चों के साथ क्वालिटी एवं हेल्थी समय बिताना चाहिए जिससे बच्चों को अच्छे संस्कार के साथ जिम्मेदार नागरिक भी बना सके।

ऑनलाइन संवाद कार्यक्रम में छात्राओं ने अनेक प्रश्न पूछे। छात्राओं ने उत्साह के साथ वेबिनार में हिस्सा लिया साथ ही वेबिनार को ज्ञानवर्धक व ऊर्जावान बताया। कार्यक्रम में 100 छात्राओं ने हिस्सा लिया साथ ही हज़ार से ज्यादा बच्चों ने फेसबुक के माध्यम से जुड़े। महाविद्यालय की प्राचार्या डॉ० अंजू गुप्ता ने ऑनलाइन संवाद के लिए एडीसीपी सुनीता मीणा को धन्यवाद दिया।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!