Breaking News

गहलोत सरकार स्क्रीनिंग बढ़ाएं साथ ही कोरंटिन सेंटर पर ध्यान दे – राजस्थान बीजेपी

आज सोमवार को केन्द्रीय मंत्री रमेश पोखरीयाल निसंख ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए राजस्थान प्रदेश भाजपा के प्रमुख नेताओं से वैश्विक महामारी कोरोना वायरस से  आए इस संकट के दौरान भाजपा द्वारा चलाए जा रहे राहत कार्यों की समिक्षा के लिए भाजपा नेताओं की प्रतिदिन होने वाली विडियो कांफ़्रेसिंग में केन्द्रीय मंत्री रमेश पोखरीयाल, राष्ट्रीय सह-संगठन मंत्री वी सतीश, प्रदेश अध्यक्ष ड़ा सतीश पूनियाँ, नेता प्रतिपक्ष गुलाब चंद कटारिया, संगठन महामंत्री चंद्रशेखर, केंद्रिय मंत्री गजेन्द्र सिंह शेखावत, अर्जुन मेघवाल और कैलाश चौधरी जुड़े।

बैठक में हुई समिक्षा में यह निकलकर सामने आया कि प्रदेश के भाजपा कार्यकर्ताओं ने अब तक पीएम केयर फ़ंड के लिए लगभग 1 लाख 22 हज़ार 150 लोगों से संपर्क किया, जिन्होंने 12 करोड़ 10 लाख 27 हज़ार 878 रुपए का योगदान दिया। लॉक डाउन लागू होने के बाद पूरे प्रदेश में अब तक भाजपा कार्यकर्ताओं द्वारा ज़रूरतमंद लोगों को लगभग 50 लाख से ज़्यादा भोजन पैकेट, 20 लाख खाद्य सामग्री के पैकेट, 5 लाख 10 हज़ार के आसपास मास्क का वितरण किया जा चुका है। पूरे प्रदेश में ये काम सुचारू रूप से चले इसके लिए 1 लाख 40 हज़ार 550 कार्यकर्ता दिन-रात लगे है।

भाजपा नेताओं की इस कांफ़्रेसिंग में प्रदेश के कुछ हिस्सों में तेज़ी से बढ़ रहे संक्रमण पर चिंता ज़ाहिर की गई, जहां एक तरफ जयपुर के रामगंज जैसे कोरोना हॉट स्पॉट की चर्चा हुई वहीं टोंक एवं जोधपुर में पिछले कुछ दिनों से तेज़ी से संक्रमण तेजी से बढ़ने का मामला भी सामने आया, आश्चर्यजनक तरीक़े से कर्फ़्यू लागू होने के बावजूद कुछ लोग रामगंज से निकल कर प्रदेश के दूसरे हिस्सों में गए है और बाक़ी आम लोगों के जीवन को ख़तरे में डाल रहे है, ऐसा लगता है कि सरकार का प्रशासन ऐसे स्थानों पर फ़ेल साबित हो रहा है। कई जगह तब्लीगी जमात से जुड़े लोग अभी भी सामने नहीं आ रहे है और सरकार भी उनके ऊपर कोई सख़्ती नहीं दिखा रही है। सरकार ने पुरी तरह से लापरवाही दिखाते हुए घनी आबादी वाले इलाक़ों में कोरांटीन सेंटर बना दिए हैं, संक्रमण ना फैले इसके लिए ये सेंटर शहर के बाहरी इलाक़ों में बनायें जाने चाहिए थे। प्रदेश में कोरोना स्क्रीनिंग की रफ़्तार भी धीमी है, जिसमें सावधानी रखते हुए तेज़ी लाए जाने की ज़रूरत है। इन सभी हालातों से राज्यपाल कलराज मिश्र को भी अवगत करवाया गया है। काँफ़्रेस में ये तय हुआ कि इन तमाम हालातों से भारत सरकार को भी अवगत करवाया जाएगा।
भाजपा नेताओं ने मोडिफ़ाइड लाक़डाउन को भी जल्दबाज़ी बताते हुए कहा की देश की सरकार एक बार पुरी तरह से हालात की समिक्षा करके ही कोई  जनहित निर्णय लेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!